Welcome, visitor! [ Register | LoginRSS Feed  | 

Comments Off on बम ब्‍लास्‍ट से दहला आरा, कोलकाता से बड़ी घटना को अंजाम देने आये थे संदिग्‍ध

बम ब्‍लास्‍ट से दहला आरा, कोलकाता से बड़ी घटना को अंजाम देने आये थे संदिग्‍ध

| News | February 15, 2018

भोजपुर [जेएनएन]। बिहार के भोजपुर जिला मुख्‍यालय आरा स्थित सब्जी गोला के समीप स्थित हरखेंन कुमार जैन धर्मशाला गुरुवार की सुबह बम विस्‍फोट से दहल गया। घटना उस समय हुई, जब कोलकाता से आए करीब आधा दर्जन अपराधियों के पास रखे बम फट पड़े। घटना में दो अपराधी घायल हो गए, जिन्‍हें गिरफ्तार कर लिया गया है। प्रारंभिक पूछताछ में उन्‍होंने बताया कि वे बैंक लूट की घटना को अंजाम देने आरा पहुंचे थे।
अचानक हुए विस्‍फोट से धर्मशाला में अफरा-तफरी मच गई। पुलिस ने घायलों में एक को अस्पताल पहुंचाया, जबकि घटना के बाद भाग रहे एक अन्‍य घायल को गिरफ्तार कर लिया। घायलों को बेहतर चिकित्‍सा के लिए पटना रेफर कर दिया गया है।

पुलिस पूछताछ में घायलों ने बताया है कि वे बैंक लूट की घटना को अंजाम देने आए थे। हालांकि, उनके आत्‍मघाती हमलावर होने की भी आशंका व्‍यक्‍त की जा रही है। इस मामले पर पटना के आइजी ने कहा कि फिलहाल संदिग्‍धों को आत्‍मघाती हमलावर बताना जल्‍दबाजी होगी। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। जांच के बाद ही यह पता चलेगा कि इस घटना के पीछे किसका हाथ है।
नगर थानाध्यक्ष जेपी सिंह ने बताया कि हरखेन कुमार जैन धर्मशाला में आए 4-5 संदिग्धों के झोले में रखे बम में विस्फोट हो गया। इसमें घायल दो संदिग्‍धों को गिरफ्तार किया गया है। अन्य संदिग्‍धों की गिरफ्तारी हेतु पुलिस छापेमारी जारी है।

255 total views, 2 today

Comments Off on पाटलिपुत्र से चलेगी राजधानी एक्स., सोनपुर पहुंचेंगे सिर्फ 45 मिनट में

पाटलिपुत्र से चलेगी राजधानी एक्स., सोनपुर पहुंचेंगे सिर्फ 45 मिनट में

| News | December 24, 2015

patliputra-24-12-2015-1450936425_storyimage
नए साल में पाटलिपुत्र जंक्शन से रेल यात्रियों को कई सौगात मिलेगी। वजह पाटलिपुत्र जंक्शन से सोनपुर, नरकटियागंज, बरौनी व सोनपुर के लिए ट्रेनें चलाने की तैयारी है। इनकी शुरुआत मार्च से पहले होगी। पाटलिपुत्र जंक्शन से 45 मिनट में सोनपुर, 4 घंटे में बरौनी व 2 घंटे 20 मिनट में मुजफ्फरपुर के लिए ट्रेनें उपलब्ध होंगी।

जाम से मिलेगा छुटकारा: पाटलिपुत्र जंक्शन को भी एक राजधानी एक्सप्रेस का तोहफा मिलेगा। डिब्रूगढ़ राजधानी समेत पांच ट्रेनों का रूट बदलने का प्लान स्वीकृत हो गया है। ये ट्रेनें हैं डिब्रूगढ़ राजधानी एक्सप्रेस, नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस, पूर्वोतर संपर्क क्रांति एक्सप्रेस, सीमांचल एक्सप्रेस व कामाख्या लोकमान्य तिलक टर्मिनल एसी एक्सप्रेस अब ये ट्रेनें बरौनी से पटना के बीच मेन रूट से नहीं चलेगी। बरौनी से ये ट्रेनें हाजीपुर जाएंगी और फिर दीघा पुल होते हुए पाटलिपुत्र जंक्शन पहुंचेंगी। इसके बाद यह पाटलिपुत्र से दानापुर पहुंचेगी। दानापुर में भी इन पांच ट्रेनों का ठहराव सुनिश्चित किया जाएगा।

पहली ट्रेन
सोनपुर पाटलिपुत्र डेमू पैसेंजर चलेगी। यह सोनपुर से सुबह सात बजे खुलकर दीघा पुल होते हुए पाटलिपुत्र जंक्शन पर 7.45 बजे पहुंचेगी। पाटलिपुत्र जंक्शन से यह ट्रेन रात आठ बजे खुलेगी और सोनपुर में रात 8.45 बजे पहुंचेगी।

दूसरी ट्रेन
बरौनी पाटलिपुत्र डेमू पैसेंजर है, जो बरौनी से शाम तीन बजे खुलेगी और हाजीपुर सोनपुर होते हुए दीघा पुल के रास्ते रात 7.15 बजे पाटलिपुत्र जंक्शन पहुंचेगी। पाटलिपुत्र जं. से हर दिन सुबह 8.30 बजे खुलेगी और दोपहर 12.45 बजे बरौनी पहुंचेगी।

तीसरी ट्रेन
मुजफ्फरपुर पाटलिपुत्र मेमू पैसेंजर होगी। यह ट्रेन सुबह 7.40 बजे खुलेगी और शाहपुर पटोरी के रास्ते दीघा पुल होते हुए पाटलिपुत्र जंक्शन पर दस बजे पहुंचेगी। पाटलिपुत्र जंक्शन से यह ट्रेन 11.20 बजे दिन में खुलेगी और दीघा पुल शाहपुर पटोरी होते हुए दोपहर 2.30 बजे मुजफ्फरपुर पहुंचेगी।

चौथी ट्रेन
मुजफ्फरपुर से पाटलिपुत्र जंक्शन के लिए ही चलेगी। यह ट्रेन शाम तीन बजे मुजफ्फपुर से खुलकर शाहपुर पटोरी होते हुए शाम 5.30 बजे पाटलिपुत्र जंक्शन पहुंचेगी। पाटलिपुत्र जंक्शन से यह ट्रेन शाम छह बजे खुलेगी और रात 9.15 बजे मुजफ्फरपुर पहुंचेगी।

पांचवीं ट्रेन
बरौनी-पाटलिपुत्र मेमू ट्रेन चलेगी। बरौनी से सुबह 6.15 बजे और 10.15 बजे पाटलिपुत्र जंक्शन पहुंचेगी। यह ट्रेन हाजीपुर, सोनपुर, दीघा पुल के रास्ते चलेगी। वापसी में ट्रेन पाटलिपुत्र जंक्शन से 10.30 बजे खुलेगी व 1.30 बजे बरौनी पहुंचेगी।

छठी ट्रेन
नरकटियागंज-पाटलिपुत्र इंटरसिटी चलेगी। यह नरकटियागंज से सुबह 4.45 बजे खुलेगी और रक्सौल, मुजफ्फपुर, हाजीपुर, दीघा पुल होते हुए 11.15 बजे पाटलिपुत्र जंक्शन पहुंचेगी। वापसी में ट्रेन पाटलिपुत्र जंक्शन से शाम पांच बजे खुलेगी।

370 total views, 2 today

Comments Off on नवजात बेटे को गिरवी रखकर अस्पताल का बिल चुकाया

नवजात बेटे को गिरवी रखकर अस्पताल का बिल चुकाया

| News | December 24, 2015

mother-24-12-2015-1450937011_storyimageअस्पताल का बिल चुकाने के लिए एक मां ने अपने नवजात बेटे को रिटायर दोरागा के पास गिरवी रख दिया। समय पूरा होने पर रिटायर दारोगा को पैसे देकर महिला अपने बच्चे को मांगने पहुंची तो उसने उसे भगा दिया।

बुधवार को पीड़ित महिला न्याय के लिए फुलवारीशरीफ थाने पहुंची। महिला के बयान पर राजीवनगर निवासी रिटायर्ड दारोगा के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पुलिस की तफ्तीश में पाया गया कि दारोगा की विवाहिता बेटी को कोई बच्चा नहीं है। उसने गिरवी रखे बच्चे को अपनी बेटी को सौंप दिया।

नौ माह से दारोगा कर रहा टालमटोल : पीड़ित महिला के मुताबिक डेढ़ वर्ष पूर्व किसी बात को लेकर उसके पति से रिश्ता टूटने लगा। पति-पत्नी का मामला कोर्ट तक पहुंच गया। बाद में वह तारेगना स्थित ससुराल से आकर फुलवारीशरीफ के नवरतनपुर निवासी जीजा के घर रहने लगी। उस समय दो माह की गर्भवती थी। समय पूरा होने पर उसने फुलवारीशरीफ के एक निजी अस्पताल में बेटे को जन्म दिया। अस्पताल का बिल चुकाने के लिए उसके पास पैसा नहीं था। बिल चुकाने के लिए महिला के जीजा ने दोस्त रिटायर्ड दारोगा से कर्ज में रुपए मांगे। दारोगा ने बिल भुगतान के बदले एक सप्ताह के लिए बच्चे को गिरवी रखने को कहा।

281 total views, 1 today

Comments Off on दिल्ली के बाद पटना में भी सख्ती, 15 साल से अधिक पुरानी गाडि़यों पर रोक

दिल्ली के बाद पटना में भी सख्ती, 15 साल से अधिक पुरानी गाडि़यों पर रोक

| News | December 24, 2015

car-in-patna-24-12-2015-1450935931_storyimage
पंद्रह साल से अधिक पुराने डीजल वाहनों को पटना में प्रतिबंधित किया जाएगा। राजधानी में बढ़ते ध्वनि व वायु प्रदूषण को रोकने के लिए प्लास्टिक व अन्य ठोस कचरा जलाने पर प्रतिबंध लगाया जाएगा। सभी निर्माण कार्य को ढंककर रखना होगा। बालू गिराने वाले ट्रक व ट्रैक्टर को ढंककर ही शहर में प्रवेश करना होगा। ध्वनि प्रदूषण रोकने के लिए गाड़ी मालिकों व चालकों के बीच व्यापक जागरूकता अभियान चलेगा।

पर्यावरण एवं वन विभाग की समीक्षा के क्रम में मुख्यमंत्री ने ध्वनि व वायु प्रदूषण पर चिंता जताई। कहा कि प्रदूषण रोकने के लिए गंगा नदी के किनारे सभी ईंट-भट्ठों द्वारा नियमों की अवहेलना पर प्रदूषण नियंत्रण पर्षद कार्रवाई करे। अनुमंडल पदाधिकारी को ध्वनि प्रदूषण रोकने व रीजनल पदाधिकारी के तौर पर वन विभाग के क्षेत्रीय पदाधिकारियों को अधिकृत करने पर काम हो। पौधारोपण में बरगद, पीपल, पाकड़ के साथ ही फलदार पौधों में जामुन, आम, बेर लगाए जाएं। बंदरों का प्रकोप कम करने की कार्रवाई हो। हाथी पुनर्वास केंद्र की स्थापना में ऐसे लोगों को रखा जाए जो प्रशिक्षित हों।

पटना विवि की जमीन पर अगर राष्ट्रीय डॉल्फिन केंद्र बनाने में परेशानी हो तो भागलपुर व सुल्तानगंज के बीच इसे स्थापित किया जाए। बैठक में वन मंत्री तेज प्रताप यादव, मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, विकास आयुक्त शिशिर सिन्हा, वन के प्रधान सचिव विवेक कुमार सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

कृषि वानिकी की प्रोत्साहन राशि बढ़ेगी : सीएम ने कृषि वानिकी योजना में किसानों को दिए जाने वाले प्रोत्साहन राशि को बढ़ाने का निर्देश दिया। इसके तहत पहले साल 10 रुपए, दूसरे साल 10 रुपए व तीसरे साल 15 रुपए करने को कहा। पोपुलर के लग रहे पौधों को बाजार उपलब्ध कराने के लिए हाजीपुर बाजार समिति की जमीन पर मंडी बनाने को कहा। साथ ही कृषि विज्ञान केंद्र में वनकर्मियों व किसानों को प्रशिक्षण देने की व्यवस्था करने का निर्देश भी दिया।

329 total views, 0 today

Comments Off on बिहार: बैन का वादा करने वाली नीतीश सरकार अब खुद बेचेगी विदेशी शराब

बिहार: बैन का वादा करने वाली नीतीश सरकार अब खुद बेचेगी विदेशी शराब

| News | December 17, 2015

nitish-kumar_1450348
पटना. शराब पर पूरी तरह बैन का वादा करने वाली नीतीश सरकार अब अपने वादे से पलटती नजर आ रही है। देसी शराब पर बैन की बात तो सरकार कर रही है लेकिन विदेशी शराब खुद बेचने की तैयारी कर रही है। बताया जाता है कि सरकार यह कदम रेवेन्यू घाटे को कम करने के लिए उठाने जा रही है।
क्या था नीतीश का वादा?
चुनाव से पहले नीतीश ने राज्य में शराब पर बैन का वादा किया था। चुनाव जीतने के एक महीने बाद सरकार वादाखिलाफी करती नजर आ रही है।
अब क्या कह रही है सरकार?
देसी शराब पर बैन की बात तो सरकार कह रही है, लेकिन विदेशी शराब अब खुद बेचेगी। एक्साइज डिपार्टमेंट ने जो प्रपोजल तैयार किया है उसमें भी केवल देसी शराब पर बैन का जिक्र है।
क्यों कर रही है सरकार ऐसा?
दरअसल, अगर सरकार शराब को पूरी तरह बैन करती है तो उसे 4000 करोड़ रुपए का रेवेन्यू लॉस होगा। सरकार यह बड़ी रकम खोना नहीं चाहती।
होलसेल और रिटेल में विदेशी शराब अब सरकार ही बेचेगी
– नीतीश सरकार अब विदेशी शराब को होलसेल के साथ रिटेल में भी बेचेगी। बिहार स्टेट बेवरेज कॉरपोरेशन (बीएसबीसीएल) रिटेल में विदेशी शराब बेचने की योजना बना रहा है। एक्साइज डिपार्टमेंट ने इसके लिए वेयर हाउस खोजने की जिम्मेदारी असिस्टेंट कमिश्नर को दी है।
– एक्साइज कमिश्नर ने ऑर्डर दिए हैं कि जहां भी एक्साइज डिपार्टमेंट की जमीन है, वहां बीएसबीसीएल के गोदाम और दुकान खोले जाएं। फिलहाल, बीएसबीसीएल केवल शराब की होलसेल थोक बिक्री करता है। उसे एमआरपी पर 2 पर्सेंट मुनाफा होता है। जबकि रिटेल में मुनाफा 15 पर्सेंट है।
नीतीश ने कहा था-शराब पीने वाले दो तरह के होते हैं
26 नवंबर को नीतीश ने शराब पर बैन की घोषणा करते हुए कहा था कि शराब पीने वाले दो तरह के होते हैं। पहला, वे लोग जिनके पास बेहिसाब प्रॉपर्टी और पैसा है। वे महंगी शराब पीते हैं। दूसरे, वे लोग होते हैं जो देशी और मसालेदार शराब पीते हैं जो सेहत के लिए नुकसानदेह है। ऐसी शराब ज्यादातर गरीब पीते हैं। इससे उनकी फैमिली तबाह हो जाती है।

650 total views, 1 today

Video Ads

Blog Categories